श्रेणी : भाषा

‘भ’ से सबकी भली करेंगे राम

भ देवनागरी वर्णमाला में पवर्ग का चौथा व्यंजन है, भाषाविज्ञान की दृष्टि से यह द्वि-ओष्ठ्य (द्वयोष्ठ्य), स्पर्ष, घोष और महाप्राण है,...

अधिक पढ़ें

‘ब’ की बतरस का बरकरार आनंद

ब देवनागरी वर्णमाला का तेईसवाँ वर्ण जो पवर्ग का तीसरा व्यंजन है, भाषाविज्ञान की दृष्टि से यह द्वयोष्ठ्य, स्पर्श,घोष और अल्पप्राण ध्वनि...

अधिक पढ़ें

फ का हर फ़रमान, अरमान हो जाएगा

फ देवनागरी वर्णमाला के पवर्ग का दूसरा व्यंजन है, भाषाविज्ञान की दृष्टि से यह द्वयोष्ठय, स्पर्श, अघोष और महाप्राण ध्वनि है, फ से बनने...

अधिक पढ़ें

‘प’ की पटरी

प देवनागरी वर्णमाला के पवर्ग का पहला व्यंजन है, भाषा विज्ञान इसे द्वि-ओष्ठ्य, स्पर्श, अघोष और अल्पप्राण कहता है, प से बनने वाले शब्दों...

अधिक पढ़ें

‘न’ का निन्यानवे का फेर, है न!

न देवनागरी वर्णमाला के तवर्ग का पांचवा व्यंजन है भाषाविज्ञान की दृष्टि से यह दंत्य, नासिक्य, स्पर्श, घोष और अल्पप्राण है, न से बनने...

अधिक पढ़ें

धार सी धारा

ध देवनागरी वर्णमाला के तवर्ग का चौथा व्यंजन है भाषाविज्ञान की दृष्टि से यह दन्त्य, स्पर्श, घोष तथा महाप्राण ध्वनि है, इसकी महाप्राण...

अधिक पढ़ें

दमन न करते हुए भी दमदार- द

द देवनागरी वर्णमाला में तवर्ग का तीसरा व्यंजन है, भाषाविज्ञान की दृष्टि से यह दंत्य, स्पर्श, घोष और अल्पप्राण ध्वनि है, इसकी महाप्राण...

अधिक पढ़ें

थोड़ा है, थोड़े की ज़रूरत

थ देवनागरी वर्णमाला में तवर्ग का दूसरा व्यंजन है, भाषाविज्ञान की दृष्टि से यह दंत्य , अघोष, महाप्राण और स्पर्श है, इसका अल्पप्राण...

अधिक पढ़ें

‘त’ का तजुर्बा

‘त’ देवनागरी वर्णमाला के ‘त’ वर्ग का पहला व्यंजन हैं, भाषा विज्ञान इसे दंत्य, स्पर्श, अघोष और अल्पप्राण कहता है, त से बनने वाले शब्दों...

अधिक पढ़ें

डाकिया डाक लाया

'ड' देवनागरी वर्णमाला में टवर्ग का तीसरा व्यंजन है, भाषाविज्ञान की दृष्टि से मूर्धन्य, स्पर्श, घोष तथा अल्पप्राण ध्वनि का कहा है,...

अधिक पढ़ें

फिर वही ‘ढाक के तीन पात’

‘ढ’ हिंदी वर्णमाला का चौदहवाँ व्ंयजन है और ट वर्ग का चौथा वर्ण। यह मूर्धन्य, स्पर्श,घोष और महाप्राण ध्वनि है लेकिन ‘ढाई आखर’ पढ़ने...

अधिक पढ़ें

ठटकर ठ की बातें

‘ठ’-ठठेरे का, ठ देवनागरी वर्णमाला में टवर्ग का व्यंजन है‘ट’ वर्ग का यह व्यंजन भाषा विज्ञान की दृष्टि से मूर्धन्य, स्पर्श, अघोष और...

अधिक पढ़ें

‘ट’ का ट्रेंड

'ट' देवनागरी वर्णमाला में टवर्ग का प्रथम व्यंजन है, भाषा विज्ञान ने ‘ट’ वर्ग के इस प्रथम व्यंजन को मूर्धन्य, स्पर्श, अघोष तथा अल्पप्राण...

अधिक पढ़ें

‘झ’ की झिलमिल करती झालर

झ देवनागरी वर्णमाला में चवर्ग का चौथा व्यंजन है, झ झंडा का, झ से शुरू होने वाले शब्द, झ से बनने वाले शब्दों की रचनात्मक व्याख्या,...

अधिक पढ़ें

‘ज’ का जलवा

ज देवनागरी वर्णमाला में चवर्ग का तीसरा व्यंजन है, ज से शुरू होने वाले शब्द,ज से बनने वाले शब्दों की रचनात्मक व्याख्या, मुख्य शब्द...

अधिक पढ़ें

छड़ी बाजे छमाछम

छ देवनागरी वर्णमाला में चवर्ग का दूसरा व्यंजन है, छ, छत का, छ छज्जे का, आज की पीढ़ी को छज्जा पता भी होगा या नहीं, क्या पता! चवर्ग के...

अधिक पढ़ें

‘च’ का चरमोत्कर्ष

च देवनागरी वर्णमाला में च वर्ग का प्रथम व्यंजन है,च से शुरू होने वाले शब्द, च से बनने वाले शब्दों की रचनात्मक व्याख्या, मुख्य शब्द...

अधिक पढ़ें

‘घ’ से घनिष्ठता

आपने वह गीत तो सुना ही होगा, ‘घनन घनन घन घिर आए बदरा, घन घनघोर कारे छाए बदरा’, कितने सुंदर तरीके से जावेद अख़्तर ने इसमें ‘घ’ की पुनरक्ति...

अधिक पढ़ें

‘ग’ के साथ आगे बढ़ता गतांक

ग देवनागरी वर्णमाला के क वर्ग का तीसरा व्यंजन है,वो जो ई का ईख था उसे गन्ना भी कहते हैं, गन्ने का रस होता है और रसशाला को मधुशाला...

अधिक पढ़ें

खोजे ‘ख’ का खजाना

ख देवनागरी वर्णमाला के क वर्ग का दूसरा व्यंजन है,कछुए और खरगोश वाली कहानी तो आपको पता ही होगी, ‘क’ से कछुआ है तो उसके साथ जो आता है...

अधिक पढ़ें

हाँ भई हाँ भिड़ू!

तकिया कलाम या अंग्रेज़ी में कैचफ़्रेज़, आम तौर पर बार बार कहने की आदत या वह शब्द या वाक्यांश जो कुछ लोगों की ज़बान पर बातचीत करने पर...

अधिक पढ़ें

ककहरे का कलश

क देवनागरी लिपि का पहला व्यंजन है और क वर्ग का पहला वर्ण ,जहाँ बारहखड़ी ख़त्म हो जाती है, वहाँ से ककहरा शुरू हो जाता है, कई साल पहले...

अधिक पढ़ें

अंजुमन में ‘अं’ का अंबार

आइये! अब हम ‘अं’ अक्षर वाले बनने वाले शब्दों की व्याख्या देखे, जी हाँ आपका अंदाज़ा सही है, यह अंदाज़ है देवनागरी लिपि के बारहवें स्वर...

अधिक पढ़ें

‘और’, ‘और’ की ‘औ’ टेक

आइये! अब हम ‘औ’अक्षर वाले बनने वाले शब्दों की व्याख्या देखे, औसतन बात इतनी है कि हम उस ‘औ’ को जानेंगे, जो हिंदी वर्णमाला का ग्यारहवाँ...

अधिक पढ़ें

जब किसी को पुकारा, कहा ‘ओsss!’

आइये! आज हम ओ अक्षर वाले बनने वाले शब्दों की व्याख्या देखे, 'ओ’ देवनागरी वर्णमाला का दसवा स्वर,कई बार लिखने वालों ने ‘ऊँ’ को ‘ओम्’...

अधिक पढ़ें

‘ऐ’ पर कर लें ऐतबार

'ऐ' देवनागरी वर्णमाला का नवाँ स्वर,भाषाविज्ञान की दृष्टि से यह दीर्घ, अग्र, अवृत्तमुखी, अर्धसंवृत स्वर है और घोष ध्वनि है, इसके उच्चारण...

अधिक पढ़ें

एतदनुसार एक ‘ए’ की कथा

आइये! आज हम ए अक्षर वाले बनने वाले शब्दों की व्याख्या देखे, वैसे हम जिस ‘ए’ की बात कर रहे हैं वह देवनागरी वर्णमाला का आठवाँ स्वर है,...

अधिक पढ़ें

ऊ की ऊँट गाड़ी पर...

आइये! आज हम ऊ अक्षर वाले बनने वाले शब्दों की व्याख्या देखे, ऐसा ही है यह अपनी तरह का अनूठा ऊ, वैसे तो देवनागरी वर्णमाला का छठा स्वर...

अधिक पढ़ें

‘उपहास’ में मत लीजिए ‘उ’ को

उ देवनागरी वर्णमाला का पाँचवा स्वर है, आइये! आज हम उ अक्षर वाले बनने वाले शब्दों की व्याख्या देखे, ‘उच्च कुलीन’ होना मतलब केवल ‘उच्च...

अधिक पढ़ें

हम ‘ई’ से ईमान रखने नहीं, बेचने लगे

ई देवनागरी वर्णमाला का चौथा स्वर है, आइये! आज हम ई अक्षर वाले बनने वाले शब्दों की व्याख्या देखे, ई से बनने वाले शब्दों की रचनात्मक...

अधिक पढ़ें